अन्य खबरें

जनपद कौशाम्बी के करारी कस्बे में चल रहा भव्य रामलीला का मंचन

जनपद कौशाम्बी के करारी कस्बे में भव्य रामलीला का मंचन किया जा रहा है। दशहरा मेला को लेकर कस्बे में चल रहे रामलीला मंचन में धनुष यज्ञ देखने के लिए भारी भीड़ उमड़ पड़ी मंचन में राजाओं ने जोर आजमाइश की पर धनुष हिला तक नहीं सके इस लीला को देख दर्शक गदगद रहे बता दें कि करारी दशहरा मेले को लेकर कस्बे में चित्रकूट बांदा व अन्य स्थानों से आए कलाकारों द्वारा रामलीला का मंचन किया जा रहा है। शनिवार की रात कलाकारों ने धनुष यज्ञ लीला का मंचन किया मंचन में देश के तमाम हिस्सों से राजा आए पर उसको उठाना तो दूर हिला तक ना सके पूरी सभा में दो सुकुमार बालक ही बचे थे इस नजारे को देख राजा जनक चिंतित हो रोने लगे। इस पर मुनि की आज्ञा पाकर भगवान राम पहुंचे और उन्होंने पलक झपकते ही शिव धनुष तोड़ दिया धनुष टूटते ही लोग खुसी से झूम गए और जय श्रीराम जय श्रीराम के जयकारों से मंच गूंज उठा इसके बाद माता सीता ने हाथों में ले रखी जयमाला श्री राम जी के गले में डाल दिया यह नजारा देख दर्शक गदगद रहे। कमेटी के संरक्षक पंकज शर्मा और राकेश जयसवाल ने बताया कि रविवार की रात परशुराम लक्ष्मण संवाद लीला का मंचन किया जाएगा। इस मौके पर रामलीला कमेटी अध्यक्ष सुनील जायसवाल, महामंत्री ओम बाबू, मंत्री संजय जयसवाल, मदन जयसवाल, प्रबंधक पवन कुमार, प्रतीक जयसवाल, सलाहकार श्यामसुंदर, सुरेश जयसवाल सहित हजारों की संख्या में लोग उपस्थित रहे। बता दें कि करारी क्षेत्र में रामलीला का मंचन काफी समय से चल रहा है। जो प्रथा के रूप में आज भी लोगों के सहयोग से मनाया जा रहा है बहुत ही सराहनीय कार्य है पुरानी परंपराओं को कायम रखना और उस को सफल रूप देना एक बहुत बड़ी बात है।