Uttar Pradesh

प्रतापगढ़ सांसद व रैली संयोजक संगम लाल गुप्ता के प्रयास से प्रयागराज में, आजादी के बाद यह देश में पहला महाकुंभ है, जहाँ पर प्रदेश की आबादी में कम-मे-कम 26 फीसदी की हिस्सेदारी रखने वाले पिछड़ा वर्ग में शामिल वैश्यों का राजनीतिक सम्मेलन में अपनी आवाज रखी है।

प्रयागराज उत्तरप्रदेश;

 दिनांक 23 फरवरी दिन रविवार को पिछड़ा वर्ग वैश्य महाकुंभ रैली के कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे रेल मंत्री पीयूष गोयल भारत सरकार, विशिष्ट अतिथि के तौर पर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या, साथ में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह जी हुए उपस्थित। इन सभी का रैली संयोजक एवं प्रतापगढ़ सांसद ने किया भव्य स्वागत। रेल मंत्री पियूष गोयल ने कहा कि देश में कोई पिछड़ा और वंचित नहीं रहेगा इसके लिए केन्द्र सरकार सतत प्रयास कर रही है। पीयूष गोयल ने पिछडा वैश्य महाकुंभ सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि देश और प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार सबका साथ सबका विकास के नारे को रूप दे रही है। जिससे न कोई पिछड़ा रहेगा और न ही कोई वंचित रहेगा। उन्होने कहा,“हमारा समाज गौरान्वित है, कि उसने देश को इतने बड़े बड़े महानुभावों को इस देश को दिया। फिर चाहे वह राष्ट्रपिता महात्मा गांधी हों, राष्ट्रभक्त भामा शाह हो, दुर्गादास राठाैर हो और अब वर्तमान में विश्व के सबसे बड़े नेता और यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हों। रेल मंत्री ने कहा कि श्री मोदी की सोच है, कि देश में लोगों के उत्थान की जो योजनाएं लागू की जा रही हैं उनमें आर्थिक रूप से कोई न पिछड़ा रहे और न कोई वंचित रहे। सभी को इसका लाभ मिले। प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में देश विकास के मार्ग पर तेजी से आगे बढ़ रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी सदैव इस बात के लिए चिंतित रहते हैं, कि किस प्रकार से देश और प्रदेश में लोगों के उत्थान के लिए लागू हुई योजनाओं से जनता लाभान्वित हो सके। खासकर दूर-दराज के क्षेत्र में अंतिम पायदान पर खडे व्यक्ति तक उसका पूरा लाभ पहुंचाने के लिए कृतसंकल्पित हैं। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने लोगों से आह्वान किया कि, आजादी के 75 वर्ष 2022 में पूरे हो रहे हैं,और सभी लोग ज्यादा- से-ज्यादा स्वदेशी वस्तुओं का ही प्रयोग करे। इससे आमदनी बढ़ेगी, स्वरोजगार के अवसर बढ़ेंगे और यह देश तीसरी सबसे बड़ी आर्थिक महाशक्ति के रूप में उभरेगा। उन्होने कहा कि ”सब का साथ, सबका विकास और सबका विश्वास” भावना से काम कर रही है। देश की 130 करोड जनता एक साथ कदम बढायेगी तो देश 130 करोड़ कदम आगे जायेगा। इस अवसर प्रदेश के उपमुख्य मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्यने सपा प्रमुख अखिलेश यादव के 2022 में 351 सीट जीतने पर व्यंग्य कसते हुए कहा कि ‘वह मुंगेरी लाल के हसीन सपने” देखने का काम कर रहे हैं। उन्होने कहा कि 351 नहीं हम उन्हें 51 सीट भी नहीं जीतने देंगे। उन्होने दावा किया कि 100 में 60 हमारा बाकी में बंटवारा। यह वही अखिलेश हैं जो 2019 में सुश्री मायावती (बुआ जी) को प्रधानमंत्री बना रहे थे। रैली को संबोधित करते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा कि श्री मोदी के खिलाफ उठने वाली हर आवाज का मुंहतोड़ जवाब दिया जायेगा। उन्होने कहा कि मोदी ही ऐसा यशस्वी नेता है जिन्होने कुंभ में स्वच्छताग्रहियों के पैर पखार कर समरसता का संदेश दिया। उन्होंने दावा किया कि मोदी है, तो मुमकिन है। उनके कारण ही 370 धारा हटा. अयोध्या में श्रीराम मंदिर के परिणाम सामने आये। प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि, प्रदेश सरकार की एक जिला एक उत्पाद योजना से सबसे अधिक लाभ व्यापारियों को हो रहा है। ढाई साल में पांच लाख लोगों को इससे लाभ हुआ है, और 20 लाख लोगों को रोजगार मिला है। मंत्री जी सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री का “सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास” नारे के साथ सभी लोग आते हैं। आज वैश्य समाज का पिछड़ा वैश्य महाकुंभ सम्मेलन रख गया था। प्रदेश और केन्द्र सरकार वैश्य समाज के विकास के लिए बहुत कुछ कर रही है।
प्रतापगढ़ सांसद व रैली संयोजक संगम लाल गुप्ता ने कहा कि, आजादी के बाद यह देश में पहला महाकुंभ है, जहाँ पर प्रदेश की आबादी में कम-मे-कम 26 फीसदी की हिस्सेदारी रखने वाले पिछड़ा वर्ग में शामिल वैश्यों का राजनीतिक सम्मेलन में अपनी आवाज रखी है। प्रदेश के सभी जिलों से, खासकर 56 जिलों से पिछड़े वैश्यों को राजनीतिक भागीदारी देने के लिए आवाज बुलन्द किया है, जो ऐतिहासिक संगम ने गौरवान्वित किया। श्री संगम लाल गुप्ता ने कहा कि इस सम्मेलन में वैश्य समाज में शामिल गुप्ता, तेली, साहू, केसरवानी, गोयल, कसोधन वैश्य, तमोली, भुर्जी, कलवारसमेत अन्य उप जातियों के लोग को आज सम्मान सिर्फ भारतीय जनता पार्टी में ही है। प्रदेश की हर विधान सभा में पिछड़े वैश्यों के उपवर्ग के लोग 25 से 60 हजार से अधिक लोग निवास करते हैं। राजनीति में बड़ा बदलाव लाने की शक्ति रखने वाले इस समाज को अभी तक उचित स्थान दिशा मिल पाया। समाज अभी तक मुख्य धारा में शामिल नहीं हो पाया। सांसद ने बुलंद नारा दिया।उन्होंने कहा कि मान चाहिए, सम्मान चाहिए, जो तय था, वही स्थान चाहिए।इस अवसर पर नंद कैबिनेट मंत्री गोपाल नंदी लोकसभा फूलपुर सांसद केशरी देवी पटेल, कौशाम्बी सांसद विनोद सोनकर, प्रयागराज सासंद रीता बहुगुणा जोशी, महापौर अभिलाषा गुप्ता नंदी, महानगर प्रयागराज भाजपा अध्यक्ष गणेश केशरवानी, पूर्व महानगर अध्यक्ष अवधेश गुप्ता, महानगर कोषाध्यक्ष रामलोचन साहू, विछड़ वर्ग मोर्चा महानगर उपाध्यक्ष राबिन साहू, वरिष्ठ नेता फूलचंद साहू के साथ वैश्य महाकुंभ रैली संयोजक- प्रतापगढ़ सांसद संगम लाल गुप्ता, राष्ट्रीय साहू एकता मंच, राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री चंद्रिका प्रसाद साहू, नरेन्द्र साहू, मंत्री प्रतिनिधि एवं महानगर कोषाध्यक्ष रामलोचन साहू, शिवाकांत साहू कौशाम्बी संयोजक रामप्रकाश साहू , कमलेश साहू, ईश्वर दीन साहू, विकास साहू,  जुगल किशोर साहू, राहुल साहू, नंद लाल साहू, गनेश साहू, योगेश साहू, विक्की साहू आदि पिछड़ा वैश्य समाज के लाखों की संख्या में लोगों ने भाग लिया।